मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए | तरीके और टिप्स की जानकारी हिंदी मे


मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए - तरीके और टिप्स की जानकारी हिंदी मे
मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए – तरीके और टिप्स की जानकारी हिंदी मे

मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए

मन बड़ा ही चंचल होता है. अब ऐसे में इसे कैसे संभाले, कैसे शांत रखे एक बड़ी चुनौती लगती है. पर मन पर काबू पाना भी जरूरी है मन की शांति बढ़ाने के लिए मन की एकाग्रता बढ़ने के लिए. चलिए तो फिर जानते है की मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए तरीके और टिप्स की जानकारी हिंदी मे.

क्या आपको ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आपकी ज़िंदगी में तनाव बढ़ता जा रहा है. आपका मन काबू में नहीं रहता है और कहीं ना कहीं भागता रहता है. अगर आपका मन अशांत है तो हमारे पास कुछ उपाय हैं जिन्हे आज़माकर आप अपने मन को शांत कर सकते हैं. आइए जानें क्या हैं वो उपाय?

सबसे पहली बात

  1. मन कितना निर्मल होगा उतना ही शांत होगा, और फिर जितना शांत रहेगा उतना ही एकाग्र.
  2. बातें तो सभी करते है ये करो वो करो लेकिन कैसे कोई नही बताता. आपने गांधी जी के तीन बंदर के बारे में सुना होगा बिल्कुल वैसा ही करना है पर तोड़ा मॉडिफाइ करके. जैसे-
  • बुरा मत देखो पर अच्छा ज़रूर देखो.
  • बुरा मत सुनो पर अच्छा ज़रूर सुनो.
  • बुरा मत बोलो पर अच्छा बोलते रहो.
  1. आप ध्यान(मेडिटेशन) कर सकते है. ध्यान से मन निर्मल स्वच्छ हो जाता है.

वैसे देखा जाए तो ध्यान सबसे बड़ा साधन है मन की एकाग्रता और मन की शक्ति बढ़ाने का.

ध्यान के द्वारा मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए

मनको शांत करने के लिए आँखें बंद कर आप 100 बार गहरी सांस लें और बहार निकालें. इसके बाद बायीं तरफ की नाक को बंद कर बायीं तरफ की नाक से सांस लें और फिर दायीं तरफ की नाक से सांस को बहार करें. ऐसा 10 बार करें. आपका मन शांत हो जायेगा.

विचारों को मिटायें विचार आपके मन को शांत कर रहे हैं उन्हें एक कागज़ पर लिखें. अपनी समस्याओं के बारे में हर बात लिखे. इसके बाद उस कागज़ को जला दें.ऐसा करने से आपका मन काबू में आ जायेगा और आपको शांति प्राप्त होगी.

कलाकार बनकर

अपने मन को काबू में रखने की लिए कुछ देर के लिए कलाकार बन जाएँ. कुछ रंग ले लें और अपने विचारों का रंगीन चित्र बनायें. इसके साथ ही अपनी पसंद के महान लोगों द्वारा कहे हुए आशावर्धक वाक्य को बार -बार पढ़ें. उन चित्रों को भी देखें जो आपको शांति प्रदान करते हैं.

बहार घूम कर

अपने मन को शांत करने के लिए कुछ देर बाहर घूम आएं. आप किसी पार्क में जा सकते हैं. समुद्र वाले शहर में रहते हैं तो समंदर के किनारे जा सकते हैं. इसके साथ ही सुनसान सड़क पर गाड़ी चला सकते हैं लेकिन ध्यान रहे की गाड़ी की रफ्तार कम होने चाहिए.

खुद की तारीफ करके

एक सूची बनाइए जिसमे अपनी वह सारी बातें लिखिए जिनसे आप प्यार करते हैं. अपनी उन बातों को याद करें जिनके कारण आपको सभी से कभी न कभी तारीफ सुनने को मिली है. इन सब बातों को याद कर आप सोचे कि आपने अभी तक अच्छा ही किया है और आप हमेशा सफल हो जायेंगे. इस प्रकार के विचार आपके मन को शांति दें.

चुनौती को स्वीकार करके

यह पता लगाए कि आपका मन अशांत क्यों है. अगर आप को कोई काम कठिन लगता है और इसी वजह से ही आप अशांत है की वो काम कैसे होगा तो इस चुनोती को स्वीकार कर लीजिए. अपने खाली समय में उस काम की ही प्रॅक्टीस कीजिए. हो सकता है आप उस काम में 20-25 बार असफल हो जाएँ पर अपनी कोशिश जारी रखिए. एक समय आप उस काम में परफेक्ट हो जाएंगे और आपके मन को शांति प्राप्त होगी.

संगीत सुनके

मन अशांत हो तो संगीत भी सुन सकते हैं. वो गाने सुने जो आपको बहुत अच्छे लगते हैं. किसी भी एक गाने को पूरा सुनने की बजाय थोड़े-थोड़े अलग-अलग गाने सुने. इससे आपका मन पूरी तरह गाने की तरफ आकर्षित हो जाएगा और आपका मन शांत हो जाएगा.

ठंडा पानी पीकर

मन काबू में नहीं हो तो ठंडा पानी पीजिए. थोड़ा रुक-रुक कर पिएं. पानी की शीतलता आपके मन को शांत करेगी. इसके साथ ही पानी से भीगा हुआ रूमाल अपनी आंखों पर रखें. इससे मान शांत होगा.

सूर्य की रोशनी में रहें

कुछ समय सूर्य की रोशनी में बिताए. सूर्य की रोशनी में विटामिन डी होता है जो शरीर में सेरोटोनिन की मात्रा में वृद्धि करता है. सेरोटोनिन शरीर में मौजूद वो रासायनिक तत्व है जिससे दिमाग सकारात्मक सोचता है. इस प्रकार सेरोटोनिन की मात्रा बढ़ जाने से आपका मन प्रसन्न रहेगा और आपको शांति की प्राप्ति होगी.

किताब पढ़कर मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए

मन को काबू में नहीं होने पर किताब पढ़िए. वो किताब पढ़ें जो आपको सबसे अच्छी लगती हो. यदि किसी पेड़ के नीचे बैठकर या शांत जगह पर बैठकर किताब पढ़ें तो और अच्छा रहेगा. इस प्रकार आपका ध्यान बदलेगा और आप अपने मन को काबू में रक पाएँगे.

अपनों के साथ समय बिताएं

मन अशांत होने पर उससे मिलें जो आपके नज़दीक हों. या आपके रिश्तेदार या ख़ास दोस्त हो सकते हैं. उनके साथ हंसी मजाक के साथ समय बिताएं. उनकी सुने और उनकी बातों पर अपनी राय दें. इस प्रकार करने से उनकी बातें आपके मन को शांत कर देंगी और आप अपने मन को काबू में रख पाएँगे.

एकाग्रता बढ़ाने के फायदे

  1. आप सब का ख्याल रखने लगते हो, मन साफ होने की वजह से सबके दिल से जुड़े रहते हो.
  2. आप जॉब ही चाहोगे, जिससे चाहोगे कम होगा ज़रूर. क्योंकि आपकी सोच की पावर बढ़ जाती है, बोहोत बढ़ जाती है.
  3. जो पढ़ेगा जो ध्यान मे रखना चाहोगे वो सीधा ब्रेन में उतर जाएगा. क्योंकि आप की ब्रेन पावर बोहोत बढ़ जाएग.

आप जिससे भी बात करोगे वो डायरेक्ट दिल से दिल तक करोगे. और बस इसीलिए वो बहुत इफेक्टिव रहेगी.

ये बताने की तो किसी को जरूरत नहीं होती कि आप कैसे अपने मन को निर्मल रख सकते हो पर ध्यान शायद सबको नहीं आता, तो जानते है ध्यान के बारे में.

ध्यान कैसे करे

ध्यान करना बहुत ही सरल है. इसे आप रोज आधा घंटा कर सकते है,सुबह नहाने के बाद सबसे बढ़िया समय रहता है तब मन भी बड़ा शांत रहता है.

  1. पहले तो आप पद्मासन मे बैठ जाए.
  2. फिर थोड़ी देर तक योग प्रॅक्टीस करे. आप कपालभाती कर सकते है.
  3. आपको अपने श्वास श्वास पर ध्यान रखना है.
  4. फिर आँखें बंद कर ले.
  5. सांस कब अंदर आ रही है और कब बाहर जा रही है.
  6. मन में बहुत विचार आएँगे पर कुछ भी सोचना नही है.
  7. सिर्फ़ सांस पर ध्यान रखे सब विचार अपने आप गायब हो जाएँगे.
  8. इसे प्रॅक्टीस करते रहे. अपने आप ध्यान में चले जाएँगे.
  9. बादमे आपको अनुभव होगा कि आपके सिर से लेकर पाव तक, विशेषता पीठ पर एक उर्जा बह रही है.
  10. इसे कॉसमिक एनर्जी (विश्वा की उर्जा) कहते है.
  11. आधे घंटे बाद आप अपना हाथ आँखों पर घुमाए.
  12. और धीरे धीरे आँखें खोले.

अब आपको बहुत ही अच्छा महसूस होगा. सब एकदम शांत शांत लगेगा.

एक रिसर्च से पता चला है कि ध्यान करने वालो को ज़्यादा अच्छा लगता है सो के उठने वालों के मुकाबले और ध्यान करने वाले लोग अपना काम ज़्यादा एकाग्रा होकर कर सकते है. और जो कॉसमिक एनर्जी आपके अंदर आती है वो आपके सभी दोष, कष्ट मिटाती है. बस इतना ही करना है, पर रोज करनी है. फिर डाइरेक्ट आपकी मन की एकाग्रता कई गुना बढ़ जाएगी.

ज़रूर पढ़े – भूख कम कैसे करे

What's Your Reaction?

Love It Love It
1
Love It
Like It Like It
2
Like It

मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए | तरीके और टिप्स की जानकारी हिंदी मे

log in

reset password

Back to
log in