मन काबू मे कैसे करे – मन शांत करने की जानकारी हिंदी में


मन काबू मे कैसे करे - मन शांत करने की जानकारी हिंदी में
मन काबू मे कैसे करे – मन शांत करने की जानकारी हिंदी में

मन काबू मे कैसे करे मन शांत करने की जानकारी

मन काबू मे कैसे करे – मन शांत कैसे करे? ये आज की दुनिया मे सबसे बड़ा सवाल है. वैसे तो इसका जवाब खुद अपने पास ही होता है. क्यों की हर एक की ज़िंदगी मे हर एक की अलग अलग समस्याएं (प्रॉब्लम्स) होती है जो सिर्फ उसे खुद को ही पता होता है. तो अगर हम उन समस्याओं पर जीत हासिल कर ले तो बस हो गया मन शांत. पर रोज़मर्रा की ज़िंदगी मे हम इसे नज़रअंदाज़ कर देते है. चलिए आज अपने सभी समस्याओं पर जीत हासिल करते है.

पढ़िए : मन की एकाग्रता कैसे बढ़ाए

मन काबू मे कैसे करे – टिप्स

खुद को प्यार करे

सबसे पहली बात, खुद पर प्यार करना सीखिए. क्यों की जब तक आप खुद को नहीं चाहेंगे तब तक ना तो आपको दूसरे अच्छे लगेंगे और ना तो दूसरों को आप. हम हमेशा यही सोचते रहते है कि क्या मै अच्छा हूँ? तो इसका सरल सा जवाब है कि अगर आप अच्छे काम कर र है हो तो आप अच्छे है.

नकारात्मक न सोचें

हम कुछ भी करने से पहले यह सोचे है की ये मुज़से होगा की नही? तो इसका भी सरल सा जवाब है कि अगर आप आपकी खुद की मर्जी से सही कर र है हो तो वो आज नहीं तो कल हो ही जाएगा. हमेशा अपने आप को यह बताते रहना कि ये मुझसे नही होगा. इससे हमारा दिमाग़ नकारात्मक सोचने लगता है और नकारात्मक सोच ही हमारी आदत हो जाती है. तो कभी नकारात्मक ना सोचे, उससे आप कभी भी शांत नहीं रह पाएँगे.

पढ़िए – खुश कैसे रहे – जीवन खुशी से कैसे जिए

पटल से सांस ले

अगर आप थके हुए और चिंतित है तो आपकी सांस जोर से चलती है. दिल की धड़कन बढ़ती है. सांस रुक रुक के आ रही हो, ऐसे वक़्त आराम से बैठ जाए और शांति से सांस ले. इसी तरह थोड़ी देर तक धीरे धीरे सांस अंदर बाहर करे आपको अच्छा महसूस होगा.

हमेशा काम करती हुए शरीर (माँस पेशी) को आराम की जरूरत होती है. इसलिए जब घर पे हो तक ढीले कपड़े पहनें और ऊपर कहे अनुसार धीरे से सांस लेते हुए बैठे.

दूसरी ओर आकर्षित हो

कई बार आपको बहोत सी बाते नाराज़ करती है जिन्हें आपको तोड़ने का मन करता है. ऐसे बातों पर ध्यान मग्न होने से अच्छा है कि आप उनसे दूर हो जाए. वैसे कई बातें ऐसे होती है जिनसे आप दूर नहीं भाग सकते और वैसे भी दूर भागना पूरी तरह से आपको शांत नहीं कर सकता पर कुछ देर के लिए शांत जरूर रख सकता है और आपको कुछ अच्छी और सकारात्मक बातों पर ध्यान लगाने का वक्त मिल सकता है.

मनपसंद गाने सुने

म्यूजिक हर एक हाल मे बहुत ही असरदार है की आप किस तरह से सोचते है. अगर आपको बहुत ही कठिनाई हो रही हो शांत रहने मे तो शांत म्यूज़िक सुने, अच्छा महसूस होगा. बहुत ज़ोर से चलने वाले या फिर रुक्ष (हर्ष) वाले गाने ना सुने. यह आपके तनाव को और बढ़ा देंगे! इसलिए शांत रहने के लिए शांत गाने या म्यूजिक सुने.

नींद पूरी करे

जब आप पूरी नींद नहीं ले रहे हो और आपकी नींद का चकरा भंग हो गया तो आप पूरे दिन सोया सोया सा महसूस करते है. और कोई भी काम करने मे मन नही लगता. पूरी नींद लेने से आपकी सोचने की क्षमता बढ़ती है. दिमाग़ शांत महसूस करता है और अपने आप को हर बार नींद से जागने के बाद एक नयी शुरुआत करने का जज्बा देता है.

अपने चाहने वालों के साथ वक्त बिताए

अध्ययन (स्टडी) से ये पता चला है कि, पक्के सामाजिक दोस्त, परिवार और चाहने वालों के साथ वक्त बिताने से हमारी सोचने की क्षमता अच्छी रहती है. और वो सही भी है क्योंकि कोई भी अगर अपने चाहने वालों के साथ वक़्त बताएगा तो अच्छा ही महसूस करेगा. इससे आपकी महसूस करने की क्षमता को भी बढ़ावा मिलता है. साथ ही साथ आपका खुद पर का विश्वास भी बढ़ता है.

शराब, गुटखा, सिगरेट बंद करे

शराब पीने वालों का ये मन ना है कि शराब पीने से टेंशन दूर होता है. उनसे बस एक ही सवाल करे की, आप रात को शराब पीकर सोए और सुबह उठे तो क्या आपकी सारी समस्याएं दूर हो जाती है?उनकी समस्याएं दूर हो ना हो पर बढ़ ज़रूर जाती है. क्यों की शराब और गुटखा खाकर जो खुद ही खुद के शरीर को खराब कर रहा हो या आप कह सकते है मौत की और ले जा रहा हो उसकी समस्या दूर होगी या फिर बढ़ेगी. ऐसे लोग ज़िंदगी में कभी भी शांत नहीं हो सकते जब तक वो खुद की जिंदगी से खेलना बंद नही करते और सिगरेट की धुए की तरह उसे बर्बाद करना बंद नहीं करते तब तक. इसलिए नशाखोरी करना बंद कर दे तभी आप जान पाएंगे मन काबू मे कैसे करे.

पढ़िए – भूख कम कैसे करे

खुश रहै

खुश रहने से बहुत फायदे हैं. इससे आप किसी भी काम पर अपना लक्ष्य केंद्रित कर सकते हैं. और अगर कोई काम हो जाए तो शांत महसूस करते हैं. अध्ययन (स्टडी ) से ये पता चला हैं की खुश रहने से आपको शांत रहने में ही नहीं बल्कि आपकी विचारधारा को नियंत्रित करने की भी शक्ति है. आपका किसी को जवाब देने का तरीका अच्छा होता हैं साथ दर्द सहने की क्षमता को बढ़ाता हैं. खुश रहने आप अपने विचारों से परे होते हैं और वक़्त को अनुभव शुरू करते हैं ना कि उसे तौलना.

थकान और तनाव को भूले

सही है कि आप अपनी पूरी थकान और समस्याओं को एकदम से भूल नहीं सकते. थकान और अनाकर्षक बातें तो इंसान की जिंदगी का एक छोटा सा हिस्सा है. आप उन्हें एकदम से दूर नहीं कर सकते पर एक एक करके तो कर सकते हो. बस आप में कुछ बदलाव लाने होंगे. अगर आप एक समस्या दूर करते हो तो आपको दूसरी समस्याएं सुलझाने मे हिम्मत और ताकत भी मिलती है. साथ ही आपका खुद पर विश्वास बढ़ता है की किसी ना किसी तरीके से अब आप इस समस्या को भी सुलझा ही लेंगे.

अपनी सामर्त्यथा पहचाने और बढ़ाए

आपको शांत रहने मे बहुत परेशानी होंगी अगर आपको अपनी सामर्त्यथा का पता ना हो. थोड़ा समय लीजिए और खुद को जांचिये, परखिए और फिर पता लगाए कि ऐसी कौन सी चीज है जो आप में खास है. और उसे आप किस हद तक कर सकते हो. अगर अपने वो पहचानी और आपने अपनी मन की सुनकर उसे करना शुरू किया तो आप न कि अच्छा बल्कि जिंदगी भर शांत महसूस करेंगे.

योगा करे

अगर आप सोच रहे है कि मन काबू मे कैसे करे तोह योग शांत रखने में बहुत प्रभावी है. अगर आपको योगा करना आता हो तो रोज़ करें और ना आता हो सीख ले. अगर आपने रोज योगा किए तो ना की आप शांत महसूस करेंगे बल्कि आप अंदर से भी अच्छा और तंदुरुस्त महसूस करेंगे. जिससे आपका कम करने भी मन लगेगा.

पढ़िए – सूर्य नमस्कार कैसे करे

मनन/ ध्यान करे (मेडिटेशन)

कोई भी शांत जगह देखे जहा आपको कोई भी परेशान ना कर सके. जहाँ न टीवी नहीं कंप्यूटर हो. कोशिश करें कि आप कम से कम 20 मिनट तक द्‍यान लगा सके. आँखे बंद करें और गहरी सांस ले. यही करते रहे जब तक आप मनन (मेडिटेशन) कर रहे हो.

नीचे कुछ और तरीके दिए है जिनसे आपको शांत रहने मे और आसानी होगी.

  • जलन की भावना ना रखें, इससे दूर रहे.
  • हमेशा वही काम करें जो आपको पसंद है और जिसमे आपकी चाहत है.
  • अगर कोई काम शुरू किया है तो उसे खत्म कर ले.
  • ऐसा कोई भी काम ना करे जिससे आपको पछताना पड़े. वो काम कभी ना करें जो आपको पसंद ना हो. क्यों की ना तो आप वो काम करके खुश रह पाएँगे ओर नही उसे करके तसल्ली भरा महसूस कर पाएँगे.
  • कोई भी खेल खेलिए. खेल खेलने से दिमाग को खुशी और आराम मिलता है.
  • किसी के काम मैं तब तक दखल न दे जब तक आपसे पुचछा ना जाए.
  • जो बाते आपको तकलीफ़ दे रही हो और उन्हे आप चाहकर भी कुछ नही कर सकते उन्हे भूल जाए.
  • अगर परिवार या दोस्तों मे किसी ने आपको तकलीफ दी हो और आप वही सोच कर बार बार परेशान हो रहे हो तो उन्हे माफ़ कर दे. भले ही आप उनसे बात ना करे पर आपका दर्द तो कम होगा और शांत महसूस करेंगे.
  • पहचान पाने की चाहत या लालसा न रखे.
  • उतना ही काम करो जितना कर सकते हो.
  • हो सके तो किसी गरीब की जरा सी मदत करके देखिए.

 तो कैसा लगा आपको ये आज का ये लेखन मन काबू मे कैसे करे. उम्मीद है कि अच्छा ही लगा होगा. [Ref : WikiPedia : Mind]

What's Your Reaction?

Love It Love It
6
Love It
Like It Like It
3
Like It

मन काबू मे कैसे करे – मन शांत करने की जानकारी हिंदी में

log in

reset password

Back to
log in