टेबल टेनिस कैसे खेले | इतिहास और नियम की जानकारी हिन्दी मे


टेबल टेनिस कैसे खेले
टेबल टेनिस कैसे खेले

टेबल टेनिस कैसे खेले

दुनिया में बहुत टाइप के लोग होते हैं और हर इंसान को अलग अलग चीजों में रूचि होता हैं. कुच्छ लोगों को डांस करने का शौक होता हैं तो कुच्छ लोगों को गाना गाने का शौक होता हैं, कुच्छ लोगों को फुटबॉल खेलने का शौक होता हैं तो कुच्छ लोगों को टेबल टेनिस खेलने का शौक होता हैं. दुनिया में बहुत लोग आएसए होते हैं जिन्हें खेल – कूद का बहुत शौक होता हैं. खेल – कूद में रूचि होना एक बहुत ही अच्छी बात हैं. आज का हमारा टॉपिक हैं टेबल टेनिस कैसे खेले.

टेबल टेनिस कैसे खेले

कुच्छ लोगों को टेबल टेनिस खेलने का बहुत शौक होता वो लोग बचपन से ही टेबल टेनिस खेलने के दीवाने होते हैं. उन्हे जब भी टेबल टेनिस खेलने का एक छोटा सा भी मौका मिलता हैं तो वो उस मौके को हाथ से नही जाने देते. जो लोग बचपन से ही टेबल टेनिस खेलते हुए बड़े होते हैं उन लोगों को कुच्छ सालो मैं बहुत अच्छी तरह से टेबल टेनिस खेलना आ जाता हैं लेकिन कुच्छ लोग एसे भी होते हैं जिन्हे टेबल टेनिस खेलने का शौक तो होता हैं लेकिन उन्हें यह पता ही नहीं होता की टेबल टेनिस कैसे खेलते हैं. जिन लोगों को टेबल टेनिस खेलने का बहुत शौक होता हैं उनके लिए ही हमारा आज के यह लेख हैं.

आज के इस लेख में हम आप लोगो यह बताएंगे कि टेबल टेनिस कैसे खेले. क्योंकि आप लोगों का एक छोटा सा सपना भी हमारे लिए बहुत मायने रखता हैं. हम तो हर हाल में बस यही चाहते हैं की आप लोगों का हर शौक पूरा हो, हर सपना पूरा हो. इसलिए हम हमेशा अपने हर लेख में कुच्छ नया बताने की कोशिश करते हैं और हम चाहते हैं की आप हमारे इन आर्टिकल्स को पढ़े ताकि आप लोगो को कभी भी किसी भी तरह की कोई परेशानी ना हो और आप लोगो को आप लोगों की लाइफ और भी ज्यादा आसान लगे. तो बिना समय गवाए आइए जान लेते हैं की टेबल टेनिस कैसे खेला जाता हैं.

टेबल टेनिस इतिहास

टेबल टेनिस की उत्पत्ति सबसे पहले इंग्लैंड में हुई थी. इस खेल को पिंग – पॉंग खेल भी कहा जाता हैं और टेबल टेनिस खेलने वाले ग्राउंड को कोर्ट कहा जाता हैं. सन 1972 में इंग्लैंड में टेबल टेनिस का एसोसियेशन का स्थापन किया गया और सबसे पहले लंदन में टेबल टेनिस का मैच खेला गया था. इंग्लैंड में उत्पत्ति हुई इस मैच को आज वर्ल्ड के 72 कंट्री में खेला जाता हैं और आज की डेट में टेबल टेनिस एक काफी पॉपुलर मॅच बन चुका हैं. आज यह खेल विश्व ओलंपिक मैं भी अपना स्थान बना लिया हैं. मनोरंजन के लिए टेबल टेनिस का गेम एक बहुत ही अच्छा उपाय हैं.

जब तक हम कोई काम नहीं करते तब तक हमें वो काम काफी मुश्किल और भारी लगता हैं लेकिन एक बार जब हम उस काम के साथ जुड़ जाते हैं और वो काम करने लगते हैं तो धीरे धीरे हमारे लिए वो काम बहुत ज्यादा आसान और सरल हो जाता हैं. अगर आप लोगो को टेबल टेनिस खेलने का बहुत सौख हैं और आप दिल से टेबले टेनिस खेलना चाहते हैं तो आप लोग बस हमारे आज के लेख को ध्यान से पढ़िए.

टेबल टेनिस रूल्स

टेबल टेनिस एक ऐसा खेल है जो एक समय मैं दो या चार खिलाड़ियों के बीच खेला जाता हैं. प्रत्येक खिलाड़ी के पास एक बेट रहता हैं मतलब प्रत्येक खिलाड़ी एक बेट लेता हैं. टेबल टेनिस खेलने के लिए एक बेट के साथ एक गेंद (बॉल) का होना ज़रूरी हैं. टेबल टेनिस खेलने वाला बॉल रबर का होता हैं. खेल के क्षेत्रा मैं एक लकड़ी के तरह का टेबल होता हैं. यह टेबल जनरली तो लकड़ी का होता हैं लेकिन यह टेबल सेट, कांच या प्लास्टिक का भी हो सकता हैं. टेबल के चारों ओर 3/4 इंच की सफेद लाइन खीची जाती हैं. टेबल के लंबाई के बीच एक 1/8 मोटी लाइन खीची जाती हैं. टेबल के बीच चौरई में आर पार 6 इंच ऊंचा जल ताना रहता हैं जो की टेबल के चौरई के बाहर दोनों ओर से 6 इंच तक बाहर निकला रहता हैं.

टेबल टेनिस खेलने वाले खिलाड़ियों के पैर में रबर के जूते और शरीर में रंगीन बस्तर का होना अनिवार्या हैं. हर खिलाड़ी मैदान में उतरने से पहले रबर के जूते और रंगीन वस्त्र पहन कर पूरी तरह से तैयार हो जाता हैं और उसके बाद ही प्रत्येक खिलाडी मैदान मैं उतरता हैं. टेबल के ऊपर 12 फीट ऊपर से गिराई गई गेंद (बॉल) को टिप्पा लेकर 8 से 9 फीट के बीच तक उच्छला जाता हैं. तब दूसरे टीम के खिलाड़ी उस बॉल को वापस पहले वाले टीम के कोर्ट में मरने की कोशिश करते हैं.

अगर दूसरे टीम के खिलाड़ी उस बॉल को पहले वाले टीम के कोर्ट में मरने में कामयाब हो जाते हैं तो उनको 15 पॉइंट मिलता हैं और अगर वो टीम गेंद को दूसरे टीम के कोर्ट में मरने मैं असफल रहता हैं तो उसके पॉइंट कट हो जाते हैं. जो टीम 40 से ज्यादा पॉइंट हासिल कर लेता हैं वो टीम एक गेम जीत जाता हैं. और जो टीम तीन से ज्यादा गेम जीत लेता हैं वो टीम 1 से जीत लेते हैं. और जो टीम सबसे पहले 3 सेट कम्पलीट कर लेता हैं वो टीम ही विनर घोषित कर दिया जाता हैं. यह गेम खेलने में जितना मज़ा आता हैं देखने में भी उतना ही मज़ा आता हैं.

इंपॉर्टेंट नोट :- जब आज मैं आप लोगो को टेबल टेनिस के बारे मैं बता ही रही हूँ तो ये भी बता देना चाहती हूँ टेबल टेनिस की उत्पत्ति कैसे हुई और कहां हुई. मुझे लगता हैं की यह जानकारी आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगी.

अब से आप लोगों को अब ज्यादा टेंशन लेने की कोई ज़रूरत नही हैं क्यूँ कि इस लेख में हम आज कुच्छ ऐसे की टेबल टेनिस कैसे खेले और टेबल टेनिस के बारे में एक बेसिक आईडिया हो जाएगा. लेकिन किसी भी काम को करने के लिए हमारे अंदर आग्रह का होना बहुत जरूरी हैं. तो आप लोग अपने आग्रह को कभी मत खोइए और धीरज के साथ इन ट्रिक्स को फॉलो करते जाइए. आप लोग बहुत जल्दी टेबल टेनिस के एक अच्छे खिलाड़ी बन जाएँगे और खेल कूद की दुनिया में अपना एक स्थान बनाने में ज़रूर कामयाब होंगे.

What's Your Reaction?

Love It Love It
1
Love It
Like It Like It
1
Like It

टेबल टेनिस कैसे खेले | इतिहास और नियम की जानकारी हिन्दी मे

log in

reset password

Back to
log in