कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए – आत्मविश्वास बढ़ाने के टिप्स हिंदी मे


कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए - आत्मविश्वास बढ़ाने के टिप्स हिंदी मे
कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए – आत्मविश्वास बढ़ाने के टिप्स हिंदी मे

कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए

कई लोगो मे कॉन्फिडेन्स (confidence) की बोहोत कमी रहती हे, उसी कारण उनको टॅलेंट (Talent) होने के बावजूद भी वो अपना टॅलेंट नही दिखा पाते. कोई कॉन्फिडेन्स के अभाव के कारण स्टेज पर बोलने से डरता है. कॉन्फिडेन्स के कमी के कारण कोई लड़की से बात करने की हिम्मत नही जुटा पता. पढ़िए ये कुछ खास टिप्स (Tips) और इंप्रेस (Impress) करे लोगो को अपने कॉन्फिडेन्स से. चलिए जानते है की कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए आसान भाषा मे.

अपने नकारात्मक विकारोको पहचाने

अपने नकारात्मक (Negative) विचार ही अपने कॉन्फिडेन्स या आत्मविश्वास को कम करते है. इन नकारात्मक विचारो मे ज़्यादा इस प्रकार के विचार आते है, “मे ऐसा नही कर सकता हू या मे ऐसा नही कर पौउँगा”, ” मे कुछ भी नही हू”, “अगर मे ऐसा करता हू तो ये सही होगा या ग़लत”, “लोग क्या कहेंगे, क्या सोचेंगे, ये कैसे करे”. कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए.

ऐसे अलग अलग प्रकार के मान मे बहुत सवाल आते है, जिस के कारण खुदका आत्मविश्वास कम हो जाता है. ये हमेशा याद रखो जो टॅलेंट (Talent) आपमे है, दूसरे किसी मे नही. आप खुदको महत्त्व देना स्टार्ट करे. बाकी दुनिया अपने आप इंपॉर्टेन्स देने लगेगी. खुद मे बदलाव लाना बोहोट ज़रूरी है.

सकारात्मक (Positive) विचार मतलब पॉज़िटिव थॉट्स (Thoughts) जो की बोहोट इंपॉर्टेंट है, उससे आपकी लाइफ बदल जाएगी. दिन की शूरवात सकारात्मक विचारो से शुरू करे. इससे हमारा 90% आत्मविश्वास बढ़ जाता है. पहले तो नकारात्मक विचारो को सकारात्मक विचारो मे बदले, जैसे की “मे ये कर सकता हू”, “सब लोग मारी बात सुनेंगे”, “आज का दिन मेरा बहुत अच्छा जाएगा”, ऐसी सकारात्मक विचारो से अगर आप दिन की शूरवात करते हो तो परा दिन अच्छा जाता है. एक दिन ये प्रयोग कर के देखिए, आप खुद ही मान जाओगे, की इस मे क्या जादू है. कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए.

सकारात्मक नेटवर्क बनाए रखे

अपने साथी, मैत्र परिवार मे अपनी तरफ से हमेशा विचारों को उनके सामने रखे, इससे उनके साथ अच्छा कम्यूनिकेशन (Communication) बढ़ जाता है और सकारात्मक विचारो की भी अदला बदली होती है. अपने साथी या मित्र परिवार मे कई नकारात्मक विचारो वाले लोगो से थोड़ा दूर रहे क्यों की उनका संगत से अपने सकारात्मक विचारो पे बुरा असर पड़ता है. इसलिए हमेशा सकारात्मक विचार के मित्र परिवार या साथी के ही नेटवर्क (Network) मे रहे.

अपने प्रतिभा को पहचाने

हर कोई अच्छा है, इसलिए अपने अंदर के प्रतिभा को जाने. यह सब अपने कला, संगीत, लेखन, नृत्य के बारे मे है. जिस कारण हम अपने ही अंदर के प्रतिभा को अच्छी तरह जानकार अपना आत्मविश्वास बढ़ा सकते है.

अपने आप पर गरवा करे

आपको अपनी कौशल्य और प्रतिभा पर गर्व महसूस करना चाहिए. इस कारण से आप अपना आत्मविश्वास बढ़ा सकते है. खुदके के प्रतिभा को जानिए. जैसे की, “मे इस तनाव का पूरी तरह सामना कर सकता हू”, ऐसे सकारात्मक विचारो से और खुद्पर गर्व करने से अपना आत्मविश्वास बढ़ जाता है.

मुस्कुराए और आईने मे देखे

मुस्कुराके आईने मे देखने से हमारा 100% आत्मविश्वास बढ़ जाता है. मुस्कुराके आईने मे देखने से हमे पता चलता है की हमारे सकारात्मक विचरोसे हमारा आत्मविश्वास बढ़ गया है. इसी कारण हमे हमारे चेहरे पर खुशी दिखती है और हमारा आत्मविश्वास बढ़ जाता है.

सबसे महत्वपूर्ण बात “खुद पर भरोसा रखे” इससे हमारा आत्मविश्वास बढ़ा कर हमे अच्छी और खुशी भरी जिंदगी देता है.

अगर आपको आर्टिकल पसंद आया हो तो अपने फ्रेंड्स और रिलेटिव्स मे शेअर ज़रूर करे. और उन्हे जो भी जानकारी चाहिए तो कहे बस www.kaisekare.in पर जाए.

टॅग्स: कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए, आत्मविश्वास कैसे बढ़ाए, सकारात्मक सोच कैसे रखे, मान की एकाग्रता कैसे बढ़ाए. आत्मविश्वास बढ़ाने के टिप्स हिंदी मे.

What's Your Reaction?

Love It Love It
0
Love It
Like It Like It
0
Like It

कॉन्फिडेन्स कैसे बढ़ाए – आत्मविश्वास बढ़ाने के टिप्स हिंदी मे

log in

reset password

Back to
log in